CKD के किन लक्षणों के प्रति सजग रह कर इस बीमारी से बचे

क्रोनिक किडनी डिजीज(CKD) क्या है ? किन लक्षणों के प्रति सजग रह कर इस बीमारी से बच सकते हैं?

क्रोनिक किडनी डिजीज (CKD)समय के साथ धीरे धीरे बढ़ने वाली किडनी की बीमारी है, जो बढ़ने पर किडनियों को बहुत अधिक नुक्सान पहुंचा सकती है।

निम्न लिखित कुछ संकेतों और लक्षणों के प्रति सजग रह कर तथा समय पर डाक्टर से परामर्श ले कर हम (CKD) से अपनी किडनियों को सुरक्षित रख सकते हैं।

महत्वपूर्ण – यह ध्यान रखना आवश्यक है कि क्रोनिक किडनी डिजीज की शुरुआत में काफी बार कोई लक्षण महसूस नहीं होते, इसलिए किडनी के डाक्टर से नियमित परामर्श एवं उचित जांच महत्वपूर्ण है ताकि बीमारी का जल्द पता लगाया जा सके और इसे बढ़ने से रोका जा सके।

Related Posts
KIDS TOO NEED KIDNEY CARE

KIDS TOO NEED KIDNEY CARE as the children can also suffer from the Kidney diseases,
Read more

Nephrotic Syndrome in Children

(𝐄𝐝𝐮𝐜𝐚𝐭𝐢𝐨𝐧𝐚𝐥 𝐟𝐨𝐫 𝐌𝐞𝐝𝐢𝐜𝐚𝐥 𝐏𝐫𝐨𝐟𝐞𝐬𝐬𝐢𝐨𝐧𝐚𝐥𝐬) Nephrotic Syndrome Guidelines by Indian society of pediatric Nephrology on Steroid
Read more

Acute Kidney Injury in Children

(𝐄𝐝𝐮𝐜𝐚𝐭𝐢𝐨𝐧𝐚𝐥 𝐟𝐨𝐫 𝐌𝐞𝐝𝐢𝐜𝐚𝐥 𝐏𝐫𝐨𝐟𝐞𝐬𝐬𝐢𝐨𝐧𝐚𝐥𝐬) What is AKI? Is It same as ARF? What are its
Read more

Breaking the Barrier – Healing Bones in kidney Problems

Would a kidney problem have any effect on bone healing? – Yes They Do!